Join us on Facebook
Become a GFWA member

Site Announcements

Invitation to RPS SAVANA Allottees to join Case in NCDRC against RPS Infrastructures Ltd


Have you submitted a rating and reviewed your project?
Rate & Review your project now! Submit your project and review.
Read Reviews! Share your feedback!


** Enhanced EDC Stayed by High Court **

Forum email notifications...Please read !
Carpool from Greater Faridabad to Noida
Carpool from Greater Faridabad to GGN


Advertise with us

Articles from print media

Greater Faridabad farmers suffer a setback with Court Order

Postby dheerajjain » Fri Oct 19, 2012 8:11 am

http://www.amarujala.com/state/Haryana/80328-7.html

फरीदाबाद। मुआवजा राशि को लेकर ग्रेटर फरीदाबाद के किसानों को तगड़ा झटका लगा है। जिला जज के फैसले से अब किसानों को सरकार की ओर से निर्धारित राशि से भी कम मुआवजा मिलेगा।
गौरतलब है कि सरकार की मुआवजा राशि के खिलाफ नहर पार ग्रेटर फरीदाबाद के कुछ किसानों ने जिला कोर्ट की शरण ली थी, जिसमें यह कहा गया था कि सरकार मौजूदा बाजार रेट से कम पर मुआवजा दे रही है। सरकार ने शुरू में 26 लाख रुपये प्रति एकड़ मुआवजा राशि तय की थी। इसके बाद कुछ किसान अदालत चले गए। इसी बीच सरकार ने मुआवजा राशि बढ़ाकर 43 लाख रुपये प्रति एकड़ कर दी। अब 28 सितंबर को स्थानीय अदालत ने जो फैसला सुनाया है, उसमें प्रति वर्ग गज 585 रुपये के हिसाब से मुआवजा राशि तय की गई है। इसके हिसाब से किसानों को प्रति एकड़ पर करीब 28 लाख रुपये की मुआवजा राशि बनती है।
भूमि अर्जन अधिकारी राजेंद्र सिंह गहलोत ने बताया कि अभी उनके पास अदालत के निर्णय की कॉपी नहीं आई है। अब कोर्ट के फैसले के आगे क्या किया जा सकता है, यह उच्चाधिकारी ही बताएंगे।
किसान संघर्घ समिति कार्यकारी अध्यक्ष शिवदत्त वशिष्ठ ने बताया कि जिला कोर्ट के फैसले को पंजाब एंड हरियाणा हाई कोर्ट में चुनौती दी जाएगी। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी गई है।
User avatar
dheerajjain
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 2010
Images: 0
Joined: Mon Mar 15, 2010 4:55 pm
Location: Delhi

Farmers given jolt by court

Postby naveenarichwal » Fri Oct 19, 2012 2:25 pm

Read a news today at front page of Faridabad edition of Navbharat times that court has reduced the compensation for land from 43Lakhs to 28 Lakhs .

Now they are going to High court to chalange the lower court decision.
Their is delay in Judgment But truth always prevails.
I hope that these greedy farmers who own pajero, XUV , get even lower compensation than 28 Lakhs.

Lets all pray to Almighty for this.
User avatar
naveenarichwal
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 1102
Joined: Mon May 23, 2011 8:44 pm


Return to News Articles

 


  • Related topics
    Replies
    Views
    Last post

Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 0 guests

cron