Join us on Facebook
Become a GFWA member

Site Announcements

Invitation to RPS SAVANA Allottees to join Case in NCDRC against RPS Infrastructures Ltd


Have you submitted a rating and reviewed your project?
Rate & Review your project now! Submit your project and review.
Read Reviews! Share your feedback!


** Enhanced EDC Stayed by High Court **

Forum email notifications...Please read !
Carpool from Greater Faridabad to Noida
Carpool from Greater Faridabad to GGN


Advertise with us

Articles from print media

New DC will focus on Development, Slum, Health and corruption

Postby rizgr8 » Wed Nov 02, 2011 10:22 am

http://navbharattimes.indiatimes.com/de ... 569327.cms

एनबीटी न्यूज ॥ फरीदाबाद

' मैं अभी फरीदाबाद के बारे मैं ज्यादा नहीं जानता हूं , सारी जानकारियां जुटा रहा हूं। लेकिन मेरी 4 प्राथमिकताएं तय हैं , जिन पर मुझे काम करना है ' यह बात नव नियुक्त डीसी डॉ . राकेश गुप्ता ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं। उन्होंने कहा कि मेरी प्राथमिकताओं में डिवेलपमेंट , स्लम , स्वास्थ्य और करप्शन शामिल हैं। मैं इन पर ही फोकस करूंगा। भारत सरकार या राज्य सरकार का कोई भी कर्मचारी अगर जिले में रिश्वत मांगता है , तो मेरी जनता से अपील है , सीधे मुझसे शिकायत करें। उसे जेल की हवा खिलाना मेरा काम है। भ्रष्ट सरकारी कर्मचारियों को मैं मीडिया के माध्यम से खुली चेतावनी देना चाहता हूं कि अपनी हरकतों से बाज आ जाएं।

विकास कार्य है पहली प्राथमिकता

डीसी राकेश गुप्ता ने कहा कि फरीदाबाद की पहचान न केवल इंडस्ट्रियल हब के रूप में है , बल्कि यह दिल्ली से भी सटा है। इसके साथ ही यहां आबादी तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में शहर को डिवेलपमेंट की ज्यादा जरूरत है। जो विकास योजनाएं चल रही हैं , उनमें तेजी लाई जाएगी और जो भविष्य में होनी हैं , उन्हें समय पर शुरू करा तय सीमा पर पूरा कराने का प्रयास किया जाएगा। इसके साथ ही शहर के विकास के लिए नई योजनाएं लाईं जाएंगी। जिनसे लोगों को ज्यादा से ज्यादा फायदा हो। मेरा प्रयास नई विकास योजनाओं को शहर में लाना होगा।

स्लम मुक्त होगा फरीदाबाद

राकेश गुप्ता का कहना है कि फरीदाबाद में इन दिनों स्लम की समस्या बढ़ी है। यहां स्लम क्षेत्र कितना है , अभी उन्हें नहीं पता , लेकिन इसका पूरा डेटा उन्होंने मंगवाया है। स्लम क्षेत्र को खत्म कर लोगों को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं देने का प्रयास किया जाएगा। एनसीआर के अन्य जिलों के मुकाबले फरीदाबाद में स्लम काफी है , जिसके चलते न केवल यहां जरूरी सुविधाएं देने की जरूरत है , बल्कि नई योजनाएं लाने के प्रयास भी जरूरी हैं। वह अपने स्तर पर कुछ नया करने का प्रयास करेंगे।

मॉडल के रूप में उभरेगा जिला

डीसी राकेश गुप्ता ने बताया कि उन्होंने दिल्ली आईआईटी से केमिकल इंजीनियरिंग की हुई है। इसके अलावा , वह यूएसए जॉन हॉकिंस विश्वविद्यालय से हेल्थ पर पीएचडी कर इसी साल लौटे हैं। उन्होंने कहा कि जून 2011 से वह राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक और आयुक्त फूड एंड ड्रग्स प्रशासन के पद पर थे। उस समय उन्होंने पूरे राज्य के सभी जिलों के लिए प्लानिंग की थी , लेकिन अब उन्हें सिर्फ एक जिले के बारे में सोचना है। राकेश गुप्ता ने कहा कि मैंने तय किया है कि फरीदाबाद को हेल्थ के क्षेत्र में पूरे राज्य में एक मॉडल के रूप में पेश करना है। ऐसे में मेरी प्लानिंग काफी बड़ी है। पहला प्रयास होगा कि बल्लभगढ़ सिविल अस्पताल में वह सारी सुविधाएं उपलब्ध हों , जो बीके अस्पताल में उपलब्ध हैं।

बर्दाश्त नहीं होगा भ्रष्टाचार

डीसी ने साफ - साफ कहा कि वह सरकारी कार्यालयों के साथ अन्य जगहों पर भी किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे। जिले में किसी भी विभाग में , चाहे वह भारत सरकार के अंडर आता हो या हरियाणा सरकार के , वहां अगर भ्रष्टाचार की शिकायत मिलती है , तो वह तुरंत एक्शन लेंगे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि अगर किसी भी सरकारी अधिकारी या कर्मचारी संबंधित कोई भ्रष्टाचार का मामला सामने आता है , तो वे सीधे उनसे शिकायत करें। इतना जरूर ध्यान रखें कि पैसे देने से मना न करें। अमाउंट और देने का समय निश्चित कर लें और फिर उन्हें शिकायत दें। भ्रष्ट सरकारी कर्मचारी और अधिकारी को जेल भिजवाने में वह बिल्कुल देरी नहीं करेंगे।

लागू होगा सिटीजन चार्टर

राकेश गुप्ता ने बताया कि सरकारी कार्यालयों में अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा अनुशासन की अवहेलना बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि वह प्रयास करेंगे कि जिला प्रशासन के तमाम कार्यालयों में सिटीजन चार्टर के हिसाब से काम किया जाए , ताकि अपने कामों के लिए आने वाले लोगों को अधिक परेशानियों का सामना न करना पड़े।

जाम का सामना कर चुका हूं

डीसी ने कहा कि फरीदाबाद में इन दिनों जाम की समस्या ज्यादा है। मैं खुद इसका सामना कर चुका हूं। इस समस्या को दूर करने के लिए पूरे प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए एनएचएआई के अधिकारियों के साथ तालमेल बैठाया जाएगा और जल्द ही शहर को जाम मुक्त करने का प्रयास किया जाएगा। इसके अलावा , शहर की अन्य समस्याएं जैसे टूटी - धूल भरी सड़कें , सीवर , पानी आदि की समस्या को भी जल्द दूर किया जाएगा। विकास के लिए शहर का एक ब्लू प्रिंट तैयार किया जाएगा। इसके साथ ही पार्किंग की समस्या को भी दूर करने के प्रयास किए जाएंगे।

We will shake this new DC on 13 Nov. through our mass protest..Best of luck to all
User avatar
rizgr8
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 79
Joined: Fri Jul 15, 2011 6:58 pm
Location: New Delhi

Return to News Articles

 


  • Related topics
    Replies
    Views
    Last post

Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 0 guests