Join us on Facebook
Become a GFWA member

Site Announcements

Invitation to RPS SAVANA Allottees to join Case in NCDRC against RPS Infrastructures Ltd


Have you submitted a rating and reviewed your project?
Rate & Review your project now! Submit your project and review.
Read Reviews! Share your feedback!


** Enhanced EDC Stayed by High Court **

Forum email notifications...Please read !
Carpool from Greater Faridabad to Noida
Carpool from Greater Faridabad to GGN


Advertise with us

Discuss, get the latest news and developments in the Greater Faridabad region

Street Protests by Residents of BPTP to demand basic amenities

Postby dheerajjain » Wed Nov 26, 2014 11:24 am

Residents of BPTP Princess Park took to streets to protest for basic amenities which are absent. Time and again, residents of different societies are protesting on streets to demand basic amenities like Roads, Sewerage, Water etc. yet these have not been provided to residents in spite of paying thousands of crores to DTCP, HUDA and builders. Whether it is Congress or BJP, situation is same as Govt. is least interested about doing development and most interested in collecting money.

Source: Hindustan, 23rd November, 2014
http://www.livehindustan.com/news/locat ... lue=1.html

मूलभूत सुविधाओं के लिए सड़कों पर उतरे लोग

मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर ग्रेटर फरीदाबाद के लोग रविवार को सड़कों पर उतर आए। गुस्साए लोगों ने बिल्डर बीपीटीपी और हुडा प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की और प्रदर्शन किया। इसकी जानकारी मिलने पर बीपीटीपी कंपनी के दो अधिकारी योगेश और शालिनी मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को समझाने का असफल प्रयास किया। इन प्रतिनिधियों ने मौके पर मौजूद मीडिया कर्मियों से बात करने से इनकार कर दिया। लोगों ने देर शाम खेड़ी पुलिस चोकी पर जाकर शिकायत दर्ज करा दी है। प्रदर्शनकारियों में प्रिंस सोसाइटी के लोग मुख्य रूप से शामिल थे।

प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि बिल्डर ने उनसे पूरा पैसा वसूल कर लिया है, इसके बाद भी सोसाइटी में मूलभूत सुविधाएं नहीं हैं। सीवेज की समस्या, लिंक रोड नहीं होना और बिजली के कनेक्शन नहीं होने से लोगों में भारी गुस्सा है। आरोप है कि पहले बीपीटीपी कंपनी ने लोगों को फ्लैट पर कब्जा देने में परेशान किया। फ्लैट की तय कीमत से अधिक कीमत वसूली गई। इसके बावजूद मौके पर मूलभूत सुविधाएं तक उपलब्ध नहीं कराई गईं। कंपनी ने लोगों के साथ धोखा किया।

सोसाइटी के आरडब्ल्यूए के प्रधान केबी मुदगिल ने बताया कि लोगों ने तय किया है कि जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल हुडा के मुख्य प्रशासक से चंडीगढ़ में मिलेगा और राज्य सरकार को अपनी समस्याओं से अवगत कराएगा। नहरपार में हजारों एकड़ में फ्लैटों के निर्माण कार्य चल रहे हैं। एनसीआर के लोगों ने छह-सात साल पहले से फ्लैट बुक करा रखे हैं। कंपनी इतने दिन बाद भी सोसाइटी में सुविधाएं उपलब्ध नहीं करा रही है। बुकिंग के समय ही बिल्डरों ने एग्रीमेंट में मूलभूत सुविधाएं देने का वादा किया था। बिल्डर एग्रीमेंट की शर्तो से अलग अधिक रुपये मांग रहे हैं। मामले में हुडा अधिकारियों को शिकायत दी गई है, लेकिन अधिकारी इस मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं। बिल्डर और हुडा के बीच आम लोग पिस रहे हैं। हुडा के अफसरों से जब इस बारे में बातचीत करने की कोशिश की गई तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

ये हैं समस्याएं
-सोसाइटी के बाहर सीवर लाइन नहीं है,
-सीवेज खुले में बाहर डाला जा रहा है, जिससे बीमारी फैलने की आशंका है
-बिजली नहीं है, 24 घंटे जनरेटर चलते हैं
-वाटर ट्रीटमेंट प्लांट ठप है
-लिंक रोड नहीं है

प्रभावित लोगों की प्रतिक्रिया
ललिता: बीपीटीपी ने लोगों के साथ धोखा किया है। यहां लोगों ने रहना शुरू कर दिया है, लेकिन यहां न बिजली है, न पहुंचने के लिए सड़क है। बीपीटीपी वाले सुनते नहीं हैं। कहां जाएं?

डॉ. सरोज मेहरा : इतने महंगे फ्लैट लोगों ने आराम से रहने के लिए खरीदे हैं। ईडीसी का भी पैसा कंपनी ने वसूल लिया है, जो इन्होंने हुडा को दिया है। सोसाइटी तक पहुंचने के लिए सड़क तक नहीं है।

अनिता सिंह: कितनी बार कंपनी के लोगों से मिल चुके हैं। यहां हमारे साथ कंपनी ने धोखा किया है। हुडा के अधिकारियों को इसमें दखलंदाजी करके लोगों के साथ हो रहे धोखे पर कार्रवाई करनी चाहिए।

कुलभूषण मुदगिल: हम बार-बार बीपीटीपी और हुडा अधिकारियों को मिलकर समस्याओं के हल किए जाने की गुहार लगा चुके हैं। अब सोसाइटी के लोगों ने तय किया है कि चंडीगढ़ में हुडा के मुख्य प्रशासक से मिलेंगे।

सत्यपाल सिंह: आखिर हुडा ने जब बिल्डर को लाइसेंस दिए होंगे तो इन सब चीजों पर बात हुई होगी, लेकिन अब अगर लोगों के साथ बिल्डर धोखा कर रहा है, तो हुडा को बिल्डर के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

विनोद छाबड़ी: इतने महंगे घर लेने के बाद भी यहां बिजली नहीं है, जनरेटर पर सोसाइटी है। सीवर नहीं है। कहते हैं कि सीवर हुडा को डालना है। सड़क के लिए जमीन खरीदनी है, जो नहीं खरीद रहे हैं।


User avatar
dheerajjain
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 2010
Images: 0
Joined: Mon Mar 15, 2010 4:55 pm
Location: Delhi

Return to Greater Faridabad News & Development

 


  • Related topics
    Replies
    Views
    Last post

Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 0 guests

cron