Join us on Facebook
Become a GFWA member

Site Announcements

Invitation to RPS SAVANA Allottees to join Case in NCDRC against RPS Infrastructures Ltd


Have you submitted a rating and reviewed your project?
Rate & Review your project now! Submit your project and review.
Read Reviews! Share your feedback!


** Enhanced EDC Stayed by High Court **

Forum email notifications...Please read !
Carpool from Greater Faridabad to Noida
Carpool from Greater Faridabad to GGN


Advertise with us

Articles from print media

Work on connecting bridges to begin soon

Postby rizgr8 » Mon Jul 09, 2012 10:11 am

http://paper.hindustantimes.com/epaper/viewer.aspx

Work on connecting bridges to begin soon

If you are wondering what happened to the bridges that were to be constructed by the irrigation department to make commuting from Faridabad to Delhi and between Faridabad and Greater Faridabad across the Agra Canal better, some progress has been made in the last couple of months.

The executive editor, irrigation department, Faridabad, Sandeep Taneja said while the work on the six-lane bridge at Meethapur near FaridabadDelhi border will start in a month, work on the two bridges to connect Faridabad with the newly developed Haryana Urban Development Authority (HUDA) sectors in Greater Faridabad is likely to start in the next twothree months.

“The estimates have been sanctioned and tenders floated in respect of the construction of six-lane single span bridge near Meethapur. A bridge with three lanes is to be raised and one more lane is to be added to the existing two-lane bridge. The construction work will begin in a month,” he said.

The estimated cost of the bridge is R4 crore and it will be borne by the Delhi government. The scheduled time of completion of the project from the date of commencement is six months.

Giving details of the construction of a six-lane single span bridge to connect the road dividing Sectors 3 and 8 on the Bypass Road to the road dividing Sector 74 and Sector 75 being developed by HUDA across the Agra Canal, Taneja said the estimates are being prepared.



“We have already received R30 lakh towards the cost of preparing estimates. After due administrative process, the work is likely to begin in two months. The estimated cost of the project is R6 crore to be paid by HUDA to us. The project will be completed in six months from the date it begins,” he said.

As for the construction of a four-lane bridge on the Gurgaon Canal linking Sector 55 to Sector 58, Taneja said the estimates have been prepared. “The project is estimated to cost R6 crore. HUDA has to give the alignment details for the construction of the bridge there. The cost might vary a little depending on the alignment. Once we receive the alignment details, we will revise the estimates and go ahead with the tendering process to begin the work,” he said.
User avatar
rizgr8
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 79
Joined: Fri Jul 15, 2011 6:58 pm
Location: New Delhi

Re: Work on connecting bridges to begin soon

Postby rawalms » Tue Jul 14, 2015 7:07 pm

Hi

We get stuck up at Kheri Pul daily & even BPTP bridge is now a days also chocked at peak hours. Going from Nehar Par to Gurgaon or Delhi or Noida everyday is very tough. Also if any medical emergency or any other urgency comes, reaching main city quick & fast would be a big challenge. More people are moving to flats where possession is already given & many more would move in once pending possession is given. By when bridge already constructed opp Modern DPS is going to be operational. Its high time it is opened for public. Request appropriate Authorities to please expedite same. Thank you!

Warm Rgds, mandeep
rawalms
Junior Member
Junior Member
 
Posts: 5
Joined: Mon Jul 06, 2015 3:57 pm

Re: Work on connecting bridges to begin soon

Postby praveenleena » Thu Jul 16, 2015 9:48 am

झुग्गियों में रहने वालों को मिलेगा आशियाना
Jul 16, 2015, 08.00 AM IST
एनबीटी न्यूज, फरीदाबाद

हूडा ने बाईपास रोड के पास बसे अवैध निर्माणों में रहने वाले लोगों को आशियाना फ्लैटों में शिफ्ट करने की प्लानिंग की है। हूडा ने लगभग 2100 लोगों को फ्लैटों में शिफ्ट करने के लिए उनसे आवेदन ले लिए हैं। जल्द ही अधिकारियों के निर्देशों के बाद इन लोगों को आशियाना फ्लैटों में शिफ्ट कर सभी अवैध निर्माणों को हटा दिया जाएगा।

बाईपास रोड पर खेड़ी पुल के पास किसान व मजदूर कॉलोनी और सेक्टर-17 के सामने सैकड़ों अवैध निर्माण बने हुए हैं। इन अवैध निर्माणों के कारण ग्रेटर फरीदाबाद को फरीदाबाद से जोड़ने वाले दो पुलों की अप्रोच रोड का काम भी रुका हुआ है। पिछले दिनों हूडा ने इन अवैध निर्माणों में रहने वाले लोगों को सेक्टर 56 - 56ए में बने आशियाना फ्लैटों में शिफ्ट करने की प्लानिंग की थी। इसके लिए लोगों से आवेदन भी मांगे थे। आशियाना फ्लैटों के लिए लगभग 2100 लोगों ने आवेदन किया है। हूडा ने लिस्ट तैयार कर अधिकारियों के पास मंजूरी के लिए भेज दी है। हूडा एसडीओ सर्वे मनोज सैनी ने बताया कि बाईपास रोड पर अवैध निर्माणों में रहने वाले लगभग 2100 परिवारों को आशियाना फ्लैटों में शिफ्ट किया जाना है। आला अधिकारियों से मंजूरी के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
User avatar
praveenleena
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 152
Joined: Mon Jun 27, 2011 4:44 pm

Re: Work on connecting bridges to begin soon

Postby praveenleena » Thu Jul 16, 2015 1:34 pm

बाईपास रोड से हटाए गए अवैध कब्जे
Publish Date:Tue, 14 Jul 2015 07:52 PM (IST) |
बाईपास रोड से हटाए गए अवैध कब्जे

जागरण संवाददाता, फरीदाबाद : प्रशासन ने मंगलवार को बाईपास रोड पर बनाई गई करीब 800 झुग्गियों को ढहा दिया। इसी तरह सेक्टर-14-17 रोड पर लोगों द्वारा बाहर की तरफ खोले गए मकानों के दरवाजों को बंद करवाया तथा ग्रिल व फर्श बनाकर किए गए कब्जों को भी साफ करवाया।

सेक्टर-8 के पास बाईपास रोड पर सरकारी जमीन पर कब्जा कर लोगों ने झुग्गियां बनाई हुई थी। धीरे-धीरे ये लोग सड़क तक पहुंच गए थे। मंगलवार को हुडा सर्वे ब्रांच के एसडीओ मनोज सैनी तोड़फोड़ दस्ते व भारी पुलिस बल को लेकर कार्रवाई करने पहुंचे। कार्रवाई शुरू होते ही झुग्गियों में रहने वाली महिलाओं ने इसका विरोध किया। हालांकि पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने समझा बुझाकर महिलाओं को वहां से हटा दिया। इस दौरान करीब पौने घंटे तक कार्रवाई रुकी रही।

इसके इसके बाद दस्ते ने वहां बनी झुग्गियों को ढहा दिया। कार्रवाई के दौरान हुडा के संपदा अधिकारी रीगन कुमार तथा एसडीएम फरीदाबाद महाबीर प्रसाद भी मौजूद थे। हुडा के कार्यकारी अभियंता सतपाल दहिया बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट मौजूद थे। अतिक्रमण के कारण बाईपास रोड पर लोगों का निकलना भी मुश्किल हो गया था। इसके बाद दस्ते ने सेक्टर-14 व 17 की रोड पर लोगों द्वारा बाहर की तरफ खोले गए गेटों को बंद करवाने की कार्रवाई की गई। साथ ही ग्रिल तथा पक्के फर्श भी उखाड़ डाले। प्रशासनिक अमले ने बाईपास रोड पर अवैध रूप से चल रहे दस ट्यूबवेल को भी सील कर उन्हें बंद करवा दिया।

सोमवार को जिला नगर योजनाकार इंफोर्समेंट (डीटीपीई) ने गांव करनेरा की राजस्व संपदा में तीन अवैध कालोनियों में करीब सात एकड़ में बन रहे निर्माणों को धराशायी कर दिया। तोड़फोड़ करते वक्त दस्ते ने दो प्रॉपर्टी डीलर कार्यालय, सात रिहायशी निर्माण, एक वाणिज्यिक निर्माण, एक फार्म हाउस की चारदीवारी और लगभग 20 डीपीसी गिराई। यह कार्रवाई शहरी क्षेत्र एवं नियंत्रित क्षेत्र अधिनियम के तहत की गई है। तोड़फोड़ की इस कार्रवाई में जिला नगर योजनाकार इंफोर्समेंट (डीटीपीइ) धर्मवीर ¨सह खत्री मौजूद थे, जबकि ड्यूटी मजिस्ट्रेट बल्लभगढ़ की खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी उपमा अरोड़ा को नियुक्त किया गया। सेक्टर-55 थाना प्रभारी सैफुद्दीन व सिकरोना चौकी इंचार्ज पुलिस बल के साथ मौजूद थे।
User avatar
praveenleena
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 152
Joined: Mon Jun 27, 2011 4:44 pm

Re: Work on connecting bridges to begin soon

Postby praveenleena » Thu Aug 20, 2015 10:22 am

पुल बने तो 15 मिनट में पहुंचेगे नोएडा
Aug 20, 2015, 08.00 AM IST
एनबीटी न्यूज, फरीदाबाद

नोएडा और फरीदाबाद को जोड़ने के लिए यमुना नदी पर बनने वाले दो पुलों के लिए हरियाणा सरकार ने अपनी मंजूरी दे दी है। इसके लिए पिछले दिनों नोएडा अथॉरिटी ने हरियाणा सरकार के पास प्रस्ताव भेजा था। एनसीआर प्लनिंग बोर्ड की तरफ से बुलाई गई मीटिंग में इस पुलों को मंजूरी दे दी गई है। फरीदाबाद के लिए तैयार किए गए मास्टर प्लान 2031 में पहले ही इन पुलों को शामिल किया जा चुका है। इन पुलों के बन जाने के बाद नोएडा और फरीदाबाद के बीच की दूरी केवल 15 से 20 मिनट की रह जाएगी।

मास्टर प्लान 2031 में नोएडा को फरीदाबाद से जोड़ने के लिए दो पुल प्रस्तावित किए गए हैं। नोएडा अथॉरिटी ने इन पुलों को पहले ही अपने प्लान में शामिल कर रखा है। पुलों की लोकेशन व अलाइनमेंट को लेकर पहले ही नोएडा व फरीदाबाद के अधिकारियों के बीच मीटिंग हो चुकी है। नोएडा अथॉरिटी ने इन पुलों के लिए हरियाणा सरकार के पास प्रस्ताव भेजा था। बुधवार को एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की मीटिंग में इन पुलों को हरियाणा सरकार की तरफ से मंजूरी मिल गई। मास्टर प्लान 2031 के अनुसार एक पुल फरीदाबाद में यमुना किनारे के गांव लालपुर व दलेलपुर के पास से नोएडा के लिए जाएगा। दूसरा पुल यमुना किनारे के गांव शिकारगाह के पास से नोएडा के लिए जाएगा। नोएड़ा में ये पुल सेक्टर 168 और 149 ए से कनेक्ट होंगे।

दोनों इन पुलों को शहर से जोड़ने से 90 मीटर चौड़ी सड़कें तैयार की जाएंगी। इनमें से लालपुर के पास वाला पुल से 90 मीटर चौड़ा रोड के माध्यम से भविष्य में डिवेलप होने वाले सेक्टर 92 की आउटर रोड से जोड़ा जाएगा। वहीं शिकारगाह के पास वाला पुल 90 मीटर चौड़े रोड के माध्यम से सेक्टर 95 की आउटर रोड से कनेक्ट किया जाएगा। फिलहाल शहर के लोगों को नोएडा जाने से लिए कालिंदी कुंज से होकर गुजरना पड़ता है। इन पुलों के बन जाने के बाद नोएडा जाने में केवल 15 से 20 मिनट ही लेंगे। फिलहाल इस सफर से लगभग डेढ़ घंटे का समय लग जाता है।

डिस्ट्रिक्ट टाउन प्लैनर अमरीक सिंह ने बताया कि मास्टर प्लान 2031 में फरीदाबाद को नोएडा से जोड़ने के लिए दो पुलों का विकल्प रखा गया है। ये पुल मंझावली में बनने वाले पुल से अलग हैं।
User avatar
praveenleena
GFWA Member
GFWA Member
 
Posts: 152
Joined: Mon Jun 27, 2011 4:44 pm


Return to News Articles

 


  • Related topics
    Replies
    Views
    Last post

Who is online

Users browsing this forum: No registered users and 1 guest

cron